मेरी फसल मेरा ब्यौरा हरियाणा 2022 आवेदन, लाभ , Meri Fasal Mera Byora

हरियाणा Meri Fasal Mera Byora Yojana की शुरुआत हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर ने की है। इस योजना के तहत हरियाणा के किसान अपनी फसल की पूरा जानकारी ऑनलाइन दर्ज करेंगे। हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल के माध्यम से, सरकार किसानों को बीमा कवर, प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल मुआवजा आदि प्रदान करेगी।

मेरी फसल मेरा ब्योरा के तहत आवेदन करने के लिए किसानों को किसी कार्यालय में जाने की आवश्यकता नहीं है। उन्हें बस मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना के आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा और इस वेबसाइट के जरिये हरियाणा के किसानों को एक ही जगह पर सभी सरकारी सुविधाएं दी जाएंगी।

Contents hide

 

haryana Meri Fasal Mera Byora Yojana का आधार क्या है

हरियाणा सरकार ने कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री की उपस्थिति में एक बैठक का आयोजन किया। यह घोषणा की गई है कि पंजीकरण प्रक्रिया haryana meri fasal mera byora Portal पर शुरू होगी। यह बैठक रबी खरीफ सीजन के दौरान फसलों की खरीद के लिए की जा रही व्यवस्थाओं पर चर्चा करने के लिए आयोजित की गई थी.

सरकार ने सभी फसल संबंधित विभागों और खरीद एजेंसियों को निर्देश दिया है कि वे सभी किसान जो अपनी फसल बेचने के लिए मंडियों में आए हैं, वे आसानी से अपनी फसल बेच सकते हैं. यह सुनिश्चित किया गया कि उन्हें अपनी फसल बेचने में कोई समस्या न हो।

मेरी फसल ब्यौरा योजना का  उद्देश्य क्या है 

  • किसान पंजीकरण, खेत जानकारी, फसल पंजीकरण और फसल जानकारी प्राप्त करने के लिए यह योजना लायी गयी है।
  • एक ही स्थान पर किसानों के लिए सभी सरकारी सुविधाओं की उपलब्धता और समस्या निवारण के लिए एक अनूठा प्रयास इस योजना के जरिये किया गया है।
  • कृषि के बारे में समय पर जानकारी प्रदान की जा सकती है।
  • कृषि उपकरणों पर भोजन, बीज, ऋण की समय पर सब्सिडी प्रदान की जा सकती है।
  • फसल की बुवाई का समय एवं बाजार की जानकारी भी ली जा सकती है।
  • प्राकृतिक आपदाओं के दौरान सही समय पर सहायता भी की जायेगी।

 

Meri Fasal Mera Byora Yojana के लिए पंजीकरण होना अनिवार्य है 

11 जनवरी 2021 से यदि किसान हरियाणा सरकार की योजनाओं के तहत कृषि उपकरणों पर सब्सिडी प्राप्त करना चाहते हैं, तो उन्हें मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर पंजीकरण करना होगा।

2020-21 में किसानों ने कृषि मशीनरी और मशीनों का भौतिक सत्यापन कराया। वे सभी किसान जिन्होंने अभी तक अपनी फसल का पंजीकरण नहीं कराया है, वे जल्द से जल्द मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना की वेबसाइट पर अपना पंजीकरण जरुर करवाएं। 

पंजीकरण के बाद, किसानों को सभी आवश्यक दस्तावेज कार्यालय में जमा करने होंगे। यदि किसान कार्यालय में आवश्यक दस्तावेज जमा नहीं करते हैं, तो उनका पंजीकरण रद्द कर दिया जाएगा। जिसके बाद कोई भी दावा स्वीकार नहीं किया जाएगा।

सर्वल हरियाणा ग्रामीण बैंक शाखा रावलवास खुर्द द्वारा कार्यक्रम का आयोजन किया गया। यह कार्यक्रम विभिन्न प्रकार के केवाईसी ऋण, यूपीएसी, नेट बैंकिंग आदि के बारे में जानकारी के लिए है। सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं जैसे जन धन योजना, सुरक्षा बीमा योजना, ज्योति बीमा योजना, अटल पेंशन योजना, किसान क्रेडिट कार्ड योजना के बारे में जानकारी के लिए है। ताकि लोगों को सरकार द्वारा चलाई जा रही सभी योजनाओं का लाभ मिल सके। सरकार द्वारा सभी प्रकार की योजनाओं को पात्र हितग्राहियों तक पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है।

Read More:- PM Kisan Yojana

इस योजना के लिए कॉल सेंटर स्थापित किया गया है

किसानों की सहायता के लिए एक कॉल सेंटर स्थापित किया जाएगा। जिससे किसान अपनी समस्याएं दर्ज करा सकें और किसानों की समस्याओं का जल्द से जल्द समाधान किया जा सके। इस बैठक में यह भी बताया गया कि ई-प्रोक्योरमेंट सॉफ्टवेयर इंस्टॉल किया जाएगा और पेमेंट मॉड्यूल ई-प्रोक्योरमेंट का हिस्सा होगा। इसके लिए कई बैंकों से संपर्क किया गया है।

जब भी कोई भुगतान किया जाएगा, किसानों को भुगतान की जानकारी एसएमएस के माध्यम से भेजी जाएगी। यदि किसानों को भुगतान की जानकारी प्राप्त करने में कोई कठिनाई होती है तो खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले में विभाग द्वारा एक कॉल सेंटर स्थापित किया जाएगा। जिसके माध्यम से भुगतान संबंधी समस्याओं का समाधान किया जाएगा।

 

Haryana Meri Fasal Mera Byora Yojana 2022 के लाभ

हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना के लाभों का उल्लेख नीचे किया गया है

  • प्राकृतिक आपदा से फसल को हुए नुकसान की स्थिति में मुआवजा दिया जाता है।
  • सभी सरकारी सुविधाएं एक ही स्थान पर उपलब्ध कराने और समस्या निवारण के लिए किसानों के लिए यह एक अनूठा प्रयास है।
  • इस योजना के तहत, सरकार विभिन्न योजनाओं के तहत किसानों को वित्तीय सहायता भी प्रदान करती है।
  • भोजन, बीज समय पर सब्सिडी प्रदान करना और कृषि उपकरणों पर ऋण देना।
  • कृषि के बारे में समय पर जानकारी प्रदान करना |
  • फसल की बुवाई का समय एवं बाजार की जानकारी देना।
  • meri fasal mera byora portal पर किसानों को हरियाणा सरकार की सरकारी योजनाओं की जानकारी मिलेगी।
  • राज्य सरकार द्वारा बोई जा रही फसलों और विभिन्न सरकारी योजनाओं से पात्र किसानों को लाभान्वित करने के बारे में जानने के लिए, राज्य सरकार ने राज्य स्तरीय फसल ई-सूचना विज्ञान नामक एक वेब पोर्टल लॉन्च किया है।
  • इस पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एसएमएस के जरिए फसल से संबंधित जानकारी भेजी जाएगी।
  • आधार कार्ड पंजीकरण के समय किसानों को निम्नलिखित दस्तावेज अपने पास रखने होंगे।
  • जमीन की जानकारी के लिए कॉपी करके खसरा नंबर के साथ नंबर भरें।

 

मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना के लिए नई घोषणा

हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्योरा के तहत, हरियाणा सरकार ने हरियाणा के बाहर के किसानों के लिए धान खरीदने के लिए मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर पंजीकरण खोला है। अब अन्य राज्यों के किसान भी योजना के तहत धान की फसल बेच सकेंगे। इस खरीद सीजन के दौरान मंडियों में धान आ गया है, जिसमें से सबसे ज्यादा बिकी है। इसके लिए हाल ही में हरियाणा सरकार की ओर से रजिस्ट्रेशन की तारीख में बदलाव किया गया है। हरियाणा सरकार ने रजिस्ट्रेशन की तारीख बढ़ा दी है। अब किसान इस योजना के लिए आवेदन कर सकता है और इस योजना से मिलने वाले लाभ को प्राप्त कर सकता है ।

 

Meri Fasal Mera Byora Yojana के लिए पंजीकरण

राज्य के इच्छुक लाभार्थी मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना के तहत फसल पंजीकरण और खेत जानकारी के लिए योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते हैं। हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना 2021 के तहत बोई गई फसलों की जानकारी प्राप्त करने और विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ पात्र किसानों को प्रदान किया जाएगा। हरियाणा meri fasal mera byora पोर्टल किसानों की बेहतरी सुनिश्चित करने का काम करेगा। हरियाणा सरकार की कई योजनाओं का लाभ किसानों को सीधे मिलेगा।

 

दस्तावेज़ और पात्रता मानदंड

  • एक आवेदक हरियाणा का निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • आवास प्रामाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • ग्राउंड पेपर्स
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • किसान पंजीकरण के लिए दिशानिर्देश
  • आधार कार्ड नंबर 12 अंकों का होना चाहिए।
  • मोबाइल नंबर दस अंकों का होना चाहिए।

 

मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल 2022

ऑनलाइन पोर्टल पर किसानों को वास्तविक समय के आधार पर बुवाई, कटाई के मौसम और मंडी से संबंधित जानकारी प्रदान की गई है (वास्तविक समय के आधार पर बुवाई, कटाई के मौसम और बाजार से संबंधित जानकारी प्रदान करना)। मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल 2021 के माध्यम से किसान अपनी फसल की जानकारी ऑनलाइन दर्ज कर सकते हैं।

 

Meri Fasal Mera Byora Yojana 2022 में कोई ऑनलाइन आवेदन कैसे कर सकता है?

राज्य के इच्छुक लाभार्थियों को मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना 2022 के तहत इन चरणों का पालन करके आवेदन करना होगा।

  • सबसे पहले आपको इस योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।और वेबसाइट पर जाने के बाद आपके कंप्यूटर में इसका होम पेज दिखाई देगा ।
  • इस होम पेज पर आप “Register” का विकल्प देख सकते हैं।
  • आपको उस ऑप्शन पर क्लिक करना है।इस ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज ओपन हो जाएगा। यहां आपको मोबाइल नंबर भरना होगा। इसके बाद जारी रखने के लिए बटन पर क्लिक करें।
  • आपको अपनी अन्य जानकारी जैसे आधार संख्या, परिवार आईडी, जो भी उपलब्ध हो, भरना होगा।
  • फिर आपको सर्च बटन पर क्लिक करना होगा।क्लिक करने के बाद ओटीपी जनरेट होगा और अगले पेज पर आपको उस ओटीपी को भरना होगा। – इसके बाद आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म ओपन हो जाएगा।
  • इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म में चार चरण होते हैं।इसमें पहले चरण में किसान पंजीकरण होगा। इस फॉर्म में आपको खुद से जुड़ी सभी जानकारी भरनी होगी।
  • दूसरे चरण में फसल की जानकारी, जिसमें आपको अपनी फसल से संबंधित जानकारी भरनी होगी।
  • तीसरा चरण बैंक जानकारी भरना है, जिसमें आपको अपने बैंक खाते से संबंधित सभी जानकारी प्रदान करनी होगी।इसके बाद आखिरी और चौथे चरण में मंडी/फैक्टरिंग डिटेल्स भरनी होगी।
  • सभी आवश्यक जानकारी भरने के बाद आपको अंत में सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा।इस तरह आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाएगा।

 

मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना में  लॉगिन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले, आपको meri fasal mera byora Haryana की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज ओपन हो जाएगा।
  • होम पेज पर आपको मंडी सचिव लॉगिन करने के लिए लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको अपना जिला और बाजार केंद्र चुनना होगा।
  • अब आपको अपना मोबाइल नंबर डालना है।इसके बाद आपको एंटर बटन पर क्लिक करना होगा। इस तरह आप ये काम कर पाएंगे।

 

सीमांत किसान पंजीकरण (केवल धान के लिए)

  • सबसे पहले आपको इस योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।और वेबसाइट पर जाने के बाद आपके कंप्यूटर में इसका होम पेज दिखाई देगा ।
  • इस होम पेज पर आपके सामने सीमांत किसान पंजीकरण (केवल धान के लिए) का विकल्प होगा।आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना है। इस ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज ओपन हो जाएगा।
  • इस पेज पर आपको मोबाइल नंबर भरना होगा।कैप्चा कोड आदि भरना होगा। इसके बाद जारी रखें बटन पर क्लिक करें। अब आपके सामने एक एप्लीकेशन फॉर्म ओपन हो जाएगा।
  • आपको इस आवेदन पत्र में पूछी गई सभी जानकारी भरनी है।सभी आवश्यक जानकारी भरने के बाद आपको सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा।

 

बाज़ार में फ़सलों को लाने के लिए स्वीकृत सप्ताह चुनें?

  • सबसे पहले आपको इस योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।और वेबसाइट पर जाने के बाद आपके कंप्यूटर में इसका होम पेज दिखाई देगा ।
  • आपको इस होम पेज पर बाजार में फसल के स्वीकृत सप्ताह को चुनने का विकल्प दिखाई देगा।आपको ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। एक ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज ओपन हो जाएगा।
  • इस पेज पर किसानों को अपना मोबाइल नंबर भरना होगा।मोबाइल नंबर भरने के बाद आपको कैप्चा कोड भरना होगा और कंटिन्यू बटन पर क्लिक करना होगा। इसके बाद फसल को बाजार में लाने के लिए स्वीकृत सप्ताह आ जाएगा। आप फिर से चुन सकते हैं।

 

मेरी फसल मेरा ब्यौरा अंतर्गत  बैंक जानकारी कैसे बदलें?

  • सबसे पहले आपको इस योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।और वेबसाइट पर जाने के बाद आपके कंप्यूटर में इसका होम पेज दिखाई देगा
  • इस होम पेज पर आपको बैंक जानकारी बदलने का विकल्प दिखाई देगा।आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना है। इस ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज ओपन हो जाएगा।
  • अब, आपको मोबाइल नंबर भरना होगा और फिर कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।इसके बाद जारी रखें बटन पर क्लिक करें। बटन पर क्लिक करने के बाद, आप बैंक जानकारी बदल सकते हैं।

 

meri fasal mera byora का उद्देश्य

meri fasal mera byora का मुख्य उद्देश्य राज्य के किसानों को एक ही स्थान पर सभी सरकारी सुविधाएं उपलब्ध कराना है. योजना के माध्यम से एक ऑनलाइन पोर्टल पर कृषि उपकरणों पर भोजन, बीज, ऋण की सब्सिडी प्रदान करने का इरादा है। योजना के माध्यम से फसल की बुवाई के समय और बाजार से संबंधित जानकारी भी प्रदान की जाती है। यह प्राकृतिक आपदाओं के समय भी सहायता करता है। हम इस लेख के माध्यम से आपको पूरी और सही जानकारी देने का प्रयास कर रहे हैं अगर कोई गलती मिलती है तो आप हमे सुचना दे सकते हैं

Leave a Comment