Palanhar Yojana Rajasthan 2022: Check Payment Status

Palanhar Yojana Rajasthan 2022 पंजीकरण पालनहार योजना राजस्थान सरकार द्वारा शुरू की गई है। पालनहार योजना राजस्थान यह ऐसे बच्चों के लिए शुरू की गई है जो अनाथ हैं जिनके माता-पिता की मृत्यु हो गई है। हर महीने 500 रुपये दिए जाएंगे। पालनहार योजना राजस्थान 2022 इसके तहत कई गरीब बच्चों को इसका लाभ मिलेगा। और जब बच्चे का स्कूल में दाखिला हो जाता है तो 18 साल तक के बच्चों को हर महीने 1000 रुपये की राशि दी जाएगी । और हर साल 2000 रुपये अलग से दिए जाएंगे ताकि बच्चे के लिए कपड़े, जूते, स्वेटर की व्यवस्था की जा सके. राजस्थान पालनहार योजना 2022 के तहत 2 से 6 साल के बच्चे को आंगनबाडी में जाना होगा और 6 साल के बाद स्कूल में एडमिशन लेना होगा.

Contents hide

Palanhar Yojana Rajasthan 2022 पंजीकरण

Palanhar Yojana Rajasthan राज्य सरकार द्वारा 8 फरवरी 2005 को शुरू की गई थी। इस योजना के तहत विकलांग माता-पिता के बच्चों को भी योजना का लाभ मिलेगा। आपको बता दें कि राजस्थान पालनहार योजना sje.rajasthan.gov.in कब शुरू की गई थी, इसमें केवल अनुसूचित जाति के बच्चों को रखा गया था, आज हम आपके साथ राजस्थान पालनहार योजना से जुड़ी सभी जानकारी साझा करेंगे। और आपको बताएंगे कि आप इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे कर सकते हैं, पूरी जानकारी के लिए लेख को अंत तक पढ़ें।

Palanhar Yojana Rajasthan 2022 के बारे में जानकारी

योजना का नामपालनहार योजना राजस्थान 2022
द्वारा शुरू किया गयाराजस्थान सरकार द्वारा
विभागसामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग
लाभार्थीराज्य के अनाथ
उद्देश्यसभी बच्चों को शिक्षा प्रदान करना
5 साल तक की राशि500 रुपये प्रति माह
5 वर्ष से 18 वर्ष तक प्राप्त राशि1000 रुपये प्रति माह
आवेदन पत्रयहाँ से डाउनलोड करें
आधिकारिक वेबसाइटhttps://sso.rajasthan.gov.in/

राजस्थान पालनहार योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • माता-पिता का आधार कार्ड (जिसके द्वारा बच्चे लालन-पालन किया जाएगा)
  • पहचान पत्र
  • सक्षम प्राधिकारी द्वारा प्रमाणित आय प्रमाण पत्र
  • राशन पत्रिका
  • भामाशाह कार्ड
  • बच्चे का आधार कार्ड
  • अनाथ बच्चों के पालन-पोषण का प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर
  • आंगनबाडी में बच्चे के पंजीकरण का प्रमाण पत्र
  • स्कूल प्रवेश प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता संख्या

इसे भी पढ़ें :-Prerna up in मिशन प्रेरणा UP

Palanhar Yojana Rajasthan 2022 के लिए पात्रता –

Palanhar Yojana Rajasthan के तहत जो व्यक्ति किसी अनाथ बच्चे को स्कूल भेजने या पालने के लिए तैयार है उसके लिए राज्य द्वारा बनाई गई नीति के अनुसार पात्रता नहीं होने पर उसे कुछ पात्रता से गुजरना होगा। सरकार, तो वे पालनहार योजना में आवेदन नहीं कर सकते हैं।

  • इस योजना के तहत माता-पिता उत्तर प्रदेश के निवासी होने चाहिए। यदि माता-पिता किसी अन्य राज्य से हैं, तो उन्हें योजना के लिए पात्र नहीं माना जाएगा।
  • उनके अभिभावक की वार्षिक आय 1.20 लाख ही होनी चाहिए इससे अधिक नहीं ।
  • ऐसे अनाथ बच्चों को 2 वर्ष के होते ही आंगनबाडी भेजना होगा |
  • इसके साथ ही बच्चा 6 साल का हो जाए तो उसे स्कूल भी भेजना होगा।

Palanhar Yojana Rajasthan के लिए बच्चों की पात्रता-

आपको बता दें कि पहले राजस्थान पालनहार योजना के लिए केवल ऐसे बच्चों का चयन किया गया था जो अनुसूचित जाति के बच्चे हैं लेकिन समय-समय पर योजना में बदलाव किए गए जिनमें कुछ और श्रेणियां जोड़ी गई हैं। निम्नलिखित श्रेणियों से गुजरने वाले बच्चे योजना के पात्र होंगे।

  • राज्य के सभी अनाथ बच्चे।
  • माता-पिता के बच्चे एड्स से पीड़ित हैं।
  • जिन बच्चों के माता-पिता विकलांग हैं
  • संबंधित होने वाले अधिकतम तीन बच्चों को योजना की श्रेणी में रखा जाएगा। यदि परिवार में तीन से अधिक बच्चे हैं, तो केवल तीन बच्चों को ही लाभ मिलेगा।
  • जिन बच्चों के माता-पिता आजीवन कारावास की न्यायिक हिरासत में हैं, ऐसे माता-पिता के बच्चों को योजना के तहत रखा जाएगा।
  • पुनर्विवाहित विधवा की माँ के बच्चे
  • तलाकशुदा / परित्यक्त महिला के बच्चे।

पालनहार योजना 2022 के तहत प्रमाणित दस्तावेज –

श्रेणी के अंतर्गत आने वाले बच्चों के माता-पिता को माता-पिता से संबंधित दस्तावेज देने होंगे जैसे कि –

  • अनाथ बच्चे – माता-पिता का मृत्यु प्रमाण पत्र
  • माता-पिता को आजीवन कारावास – सजा की प्रति
  • निराश्रित विधवा मां पति का मृत्यु प्रमाण पत्र
  • रिश्तेदार बच्चे – प्रमाण पत्र अगर मां 1 वर्ष या उससे अधिक समय से संबंधित है। इसके लिए आप अपने नजदीकी ग्राम सभा, नगर पालिका, नगर निगम, नगर परिषद में जाकर प्रमाण पत्र बनवा सकते हैं।
  • पुनर्विवाहित माँ के भाई-बहन- पुनर्विवाह का माता का प्रमाण पत्र।
  • राजस्थान एड्स नियंत्रण सोसायटी में पंजीकरण के एड्स प्रमाण पत्र के साथ माता-पिता के भाई-बहन
  • कुष्ठ पीड़ित माता-पिता सक्षम चिकित्सा बोर्ड द्वारा पीड़ित के माता-पिता को जारी प्रमाण पत्र
  • तलाकशुदा महिला के बच्चे – तलाकशुदा महिलाओं को दो स्वतंत्र गवाहों के आधार पर अपने तलाक के दस्तावेजों के साथ-साथ स्वयं हलफनामा और धार्मिक प्राधिकरण द्वारा जारी प्रमाण पत्र जमा करना होगा।

इसे भी पढ़ें :-डीजी शक्ति पोर्टल 2022

Palanhar Yojana Rajasthan 2022 के अनुसार प्राप्त होने वाली राशि-

पालनहार योजना sje.rajasthan.gov.in के तहत बच्चों को शिक्षा के लिए हर माह अनुदान राशि दी जाती है और साथ ही हर साल अलग से अनुदान राशि भी दी जाती है। पालक परिवार को उक्त अनुदान देने पर शहरी क्षेत्रों में विभागीय जिला द्वारा स्वीकृत एवं ग्रामीण क्षेत्रों में विकास अधिकारी द्वारा स्वीकृत किया जाता है।

  • राज्य सरकार द्वारा 5 वर्ष की आयु तक के बच्चे को हर महीने 500 रुपये दिए जाएंगे ।
  • 1000 रुपये हर महीने स्कूल में दाखिले के बाद 18 साल की उम्र पूरी होने तक दिए जाएंगे।
  • इसके अलावा स्वेटर, जूते, कपड़े या अन्य सुविधाओं के लिए हर साल 2000 रुपये अलग से दिए जाएंगे। (केवल विधवाओं और रिश्तेदारों की श्रेणी को छोड़कर, वार्षिक अनुदान भी प्रति अनाथ की दर से दिया जाएगा। इस अनुदान की राशि माता-पिता के खाते में आसानी से स्थानांतरित कर दी जाएगी।

राजस्थान पालनहार योजना में पात्र बच्चों की सूची

  • अनाथों
  • निवर्तमान मां के अधिकतम तीन बच्चे
  • पुनर्विवाहित विधवा मां की संतान
  • एड्स से पीड़ित माता-पिता के बच्चे
  • कुष्ठ रोग वाले माता-पिता की संतान
  • विकलांग माता-पिता के बच्चे
  • तलाकशुदा / परित्यक्त महिला का बच्चा

राजस्थान पालनहार 2022 योजना के उद्देश्य

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि देश में कई ऐसे बच्चे हैं, जिनकी वजह से परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं रहती है, बच्चे छोटे-छोटे काम करने लगते हैं, जिससे न तो बच्चों को पढ़ने का मौका मिलता है और न ही उन्हें कुछ बेहतर मिलता है। शिक्षा। यदि माता-पिता की मृत्यु हो जाती है तो वातावरण में क्षण बढ़ सकते हैं,

तो ऐसी स्थिति में परिवार के कई सदस्य बच्चे की देखभाल करने में असमर्थता दिखाते हैं, जिसके कारण बच्चे को न तो शिक्षा मिलती है और न ही कोई पारिवारिक वातावरण। इसी समस्या को देखते हुए sje.rajasthan.gov.in राजस्थान सरकार ने 2005 में राजस्थान पालनहार योजना की शुरुआत की थी।

जिसमें बच्चे के रिश्तेदार या कोई भी व्यक्ति अनाथ बच्चे की जिम्मेदारी लेता है, तो सरकार उसके अनुसार हर महीने माता-पिता को राशि ट्रांसफर करेगी। यह योजना। ताकि पालन-पोषण करने वाले को बच्चे को लेकर किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े।

राजस्थान पालनहार योजना 2022 आवेदन पत्र कैसे डाउनलोड करें

जो उम्मीदवार इस योजना के लिए ऑफलाइन आवेदन करना चाहते हैं, हम उन्हें बता रहे हैं कि वे कितनी आसानी से अपना फॉर्म डाउनलोड कर आवेदन कर सकते हैं,

  • न्याय अधिकारिता के पहले उम्मीदवार www.sje.rajasthan.gov.in की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं
  • उसके बाद आप योजना लिंक पर क्लिक करें और Palanhar Yojana Rajasthan का चयन करें।
  • अब आपकी स्क्रीन पर Palanhar Yojana Rajasthan का आवेदन फॉर्म आपकी स्क्रीन पर दिखाई देगा। आपको फॉर्म डाउनलोड करना होगा और फिर उसका प्रिंट आउट लेना होगा।
  • अब फॉर्म में पात्रता श्रेणी के अनुसार सभी जानकारी दर्ज करें।
  • और आवेदन पत्र के साथ सभी दस्तावेज संलग्न करें।
  • नोट: यदि आप शहर में रहते हैं, तो आपको आवेदन पत्र जिला अधिकारी को जमा करना होगा।
  • यदि आप ग्रामीण निवासी हैं तो आपको संबंधित विकास अधिकारी को आवेदन पत्र जमा करना होगा।
  • सभी दस्तावेजों के सत्यापन के बाद बच्चे को लाभ प्रदान किया जाएगा।

राजस्थान पालनहार योजना के तहत आवश्यक दस्तावेज

  • 1.) पालनहार के साथ आधार कार्ड
  • 2.) भामाशाह कार्ड एक कार्ड होना चाहिए
  • 3.) मूल निवास प्रमाण पत्र होना आवश्यक है।
  • 4.) राशन कार्ड की प्रति
  • 5.) आईडी की प्रति
  • 6.) आंगनबाडी में बच्चे के रजिस्ट्रेशन का सर्टिफिकेट, स्कूल में ग्रेजुएशन का सर्टिफिकेट
  • 7.) बच्चे के पास आधार कार्ड होना जरूरी है।
  • 8.) पालनहार का मोबाइल नंबर सक्रिय होना चाहिए।
  • 9.) पासपोर्ट साइज फोटो होना जरूरी है।

इसे भी पढ़ें :-Saral Portal Haryana

sje.rajasthan.gov.in पालनहार योजना राजस्थान 2020 में आवेदन कैसे करें

  • 1.) इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए आवेदक को सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा, उसके बाद राजस्थान पालनहार योजना के आवेदन पत्र पीडीएफ फाइल को डाउनलोड करना होगा।
  • 2.) इसके बाद आपको आवेदन पत्र में मांगी गई सभी जानकारी जैसे पालनहार का नाम, जन्मतिथि आदि भरनी होगी।
  • 3.) जानकारी भरने के बाद आपको आवेदन पत्र के साथ अपने सभी दस्तावेज संलग्न करने होंगे।
  • 4.) इसके बाद की प्रक्रिया में आपको आवेदन पत्र शहरी क्षेत्र के विभागीय जिला अधिकारी या ग्रामीण क्षेत्र निवासी फॉर्म को संबंधित विकास अधिकारी को या ई-मित्र कियोस्क केंद्र पर ले जाकर जमा करना होगा। इस तरह आपकी आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

राजस्थान पालनहार योजना की मूर्तियों की जांच कैसे करें: –

  • राज्य स्तरीय लाभार्थी जिन्होंने इस योजना के तहत आवेदन किया है। वह अपने आवेदन को सुनिश्चित करने के लिए निम्नलिखित प्रक्रिया द्वारा पता लगा सकता है।
  • 1.) आधिकारिक वेबसाइट पर जाइए |
  • 2.) वेबसाइट पर जाते ही आपका संबंधित होमपेज खुल जाएगा। अब आपको इस होम पेज पर अप्लाई ऑनलाइन/ई सर्विस का सेक्शन दिखाई देगा, जैसे पालनहार योजना से जुड़ा पेज खुल जाएगा।
  • 3.) आप बस इस सेक्शन में पालनहार पेमेंट स्टेटस के विकल्प पर जाएं और वहां क्लिक करें, ऐसा करते ही आपके सामने अगला पेज आ जाएगा, इस तरह आपको स्क्रीन पर पालनहार योजना दिखाई देगी।
  • 4.) इसके बाद आपको कुछ जानकारी जैसे एकेडमिक ईयर भामाशाह नंबर और साथ ही एप्लीकेशन आईडी कैप्चा कोड को सही से भरना है।
  • 5.) आखिरी प्रक्रिया में आप Get Status बटन पर जाएं और क्लिक करें। इसके ठीक बाद आपके सामने पेमेंट का पूरा स्टेटस आ जाएगा।

राज्य के भुगतान के लिए राजस्थान भगवान योजना का दौरा करने के लिए?

राज्य के लाभार्थी जिन्होंने इस योजना के तहत आवेदन किया है और अपने आवेदन की स्थिति देखना चाहते हैं, तो नीचे दिए गए चरणों का पालन करें।

  • सबसे पहले आपको सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जाएगा। इस होम पेज पर आपको अप्लाई ऑनलाइन/ई सर्विसेज का सेक्शन दिखाई देगा। 
  •  आपको इस सेक्शन में से पालनहार पेमेंट स्टेटस के ऑप्शन पर क्लिक करना है  । ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आपको एकेडमिक ईयर, भामाशाह नंबर और एप्लीकेशन आईडी, कैप्चा कोड आदि भरना होगा।
  • सारी जानकारी भरने के बाद आपको Get Status के बटन पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने Payment Status आ जाएगा।

आवेदन की स्थिति देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको   जन सूचना पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर आपको  स्कीम्स के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको  पालनहार योजना और लाभार्थियों की जानकारी के विकल्प  पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको पालनहार योजना और लाभार्थियों की जानकारी (अपने आवेदन की स्थिति के बारे में जानें) के विकल्प पर क्लिक करना होगा  ।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • इस पेज पर आपको एप्लिकेशन स्टेटस या पेमेंट स्टेटस में से किसी एक को चुनना होगा।
  • अब आपको भुगतान वर्ष का चयन करना होगा और अपना आवेदन संख्या या एसआरडीआर नंबर दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको सर्च ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • प्रासंगिक जानकारी आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

लाभार्थी सूची देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको  जन सूचना पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • इसके बाद आपको स्कीम्स के विकल्प पर क्लिक करना होगा  ।
  • अब आपको  पालनहार योजना मिलेगी और लाभ की जानकारी  के विकल्प पर क्लिक करना होगा
  • इसके बाद आपको पालनहार योजना और लाभार्थी सूचना (लाभार्थी सूची) के विकल्प पर क्लिक करना है   ।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको अपने क्षेत्र का प्रकार, जिला और भुगतान वर्ष का चयन करना होगा।
  • अब आपको सर्च ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • लाभार्थी सूची आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी।

सामाजिक अंकेक्षण सूचना देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको  जन सूचना पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। 
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर आपको  स्कीम्स के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको पालनहार योजना और लाभार्थियों की जानकारी के विकल्प पर क्लिक करना है  ।
  • इसके बाद आपको No अबाउट पालनहार सोशल ऑडिट इंफॉर्मेशन के ऑप्शन पर क्लिक करना है  ।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • इस पेज पर आपको अपने क्षेत्र का प्रकार, जिला और भुगतान वर्ष का चयन करना होगा।
  • अब आपको सर्च ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • सोशल ऑडिट की जानकारी आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

Leave a Comment